वैदिक सभ्यता क्या है वैदिक सभ्यता की सम्पूर्ण जानकारी

वैदिक सभ्यता क्या है वैदिक सभ्यता की सम्पूर्ण जानकारी

वैदिक सभ्यताः - सिंधु घाटी सभ्यता के पश्चात भारत में जिस नवीन सभ्यता का विकास हुआ उसे ही आर्य अथवा वैदिक सभ्यता या वैदिक काल के नाम से जाना जाता है। वैदिक सभ्यता या वैदिक काल की जानकारी हमे मुख्यतः वेदों से प्राप्त होती है

वैदिक काल (1500 ई. पूर्व-600ई.पूर्व)

उत्तर वैदिक काल (1000-600ई.पूर्व) - इस काल की जानकारी अन्य वेद यजुर्वेद सामवेद अथर्ववेद से मिलते हैं

ऋग्वैदिक काल (1500-1000ई.पूर्व) - इस काल की जानकारी ऋग्वेद से मिलती है

वैदिक काल में आर्यों का आगमन भारत में हुआ था। आर्य संस्कृत शब्द है जिसका अर्थ है "श्रेष्ठ" आर्यों का मूल निवास स्थान

मैक्समूलर - मध्य एशिया
दयानंद सरस्वती - तिब्बत
बाल गंगाधर तिलक - उत्तरी ध्रुव

आर्य सर्वप्रथम पंजाब एवं अफगानिस्तान में आकर बसे । यह एक ग्रामीण सभ्यता थी। आर्यों की भाषा संस्कृत थी।

आर्यों की प्रशासनिक इकाई पांच भागों में बटी थी - कुल, ग्राम, विश, जन, राष्ट्र

कुल कितने वेद हैं:- 4 वेद ऋग्वेद, यजुर्वेद, अथर्ववेद, सामवेद

ऋग्वेदः - ऋग्वेद सबसे प्राचीन वेद है

इसमें 10 मंडल 1028 सूक्त और 10462 ऋचाएं हैं ऋग्वेद के तीसरे मंडल में गायत्री मंत्र हैं

ऋग्वेद :- 

ऋग्वेद मैं स्तोत्र और प्रार्थनाएं का संचय है

ऋग्वेद में कुल मंत्रों की संख्या 10580 है इसमें 118 मंत्र दोहराए गए हैं मूल मंत्रों की संख्या 10462 है

यजुर्वेदः -

यजुर्वेद में यज्ञों के नियमों एवं विधि विधान का संकलन मिलता है इसमें बलिदान विधि का भी वर्णन है

सामवेद:-

"साम" का शाब्दिक अर्थ है गान इसे भारतीय "संगीत का जनक" कहा जाता है इसमें संगीतमय स्तोत्र का वर्णन है

अथर्ववेदः -

अथर्ववेद अथर्वा ऋषि द्वारा रचित है इसमें कुल 731 मंत्र हैं तथा लगभग 6000 पद्य हैं अथर्ववेद का संबंध चिकित्सा तंत्र मंत्र और वशीकरण से है

वेद - 4
पुराण - 18
उपनिषद - 108

उपनिषद का शाब्दिक अर्थ है "गुरुओं के समीप बैठना" "सत्यमेव जयते" मुंडक उपनिषद से लिया गया है

वेदांग की संख्या 6 है -

ऋग्वैदिक काल में समाज 4 वर्णों में बंटा हुआ था

  1. ब्राह्मण
  2. क्षत्रिय
  3. वैश्य
  4. शूद्र

ऋग्वैदिक काल में वर्ण व्यवसाय के आधार पर निर्धारित किए गए थे

वैदिक काल के देवताः-

1. इंद्रः- यह आर्यों के सर्वाधिक प्रिय देवता थे, इन्हें युद्ध तथा वर्षा का देवता माना जाता था और इन्हें पुरंदर भी कहते थे

2. अग्निः- आग के देवता

3. वरुण:- वायु देवता

4. सोमः - जंगल के देवता

5. मारुतः - तूफान के देवता

6. रुद्रः- ये सबसे क्रोध वाले देवता थे

ऋग्वैदिक काल की नदियां:-

  • आधुनिक नाम = प्राचीन नाम
  • शुतुद्रि = सतलज
  • पुरुष्णी = रावी
  • अस्किनी = चिनाब
  • वितस्ता =झेलम
  • विपाशा = व्यास
  • सरस्वती/दृशद्वती = घग्घर
  • कुभा = काबुल
  • कुमु = कुर्रम
  • सदानीरा = गंडक
  • सुवस्तु = स्वात

वेद और उपनिषद को पढ़कर ही 6 ऋषियों ने अपना दर्शन गढ़ा है। इसे भारत का षड्दर्शन कहते हैं।

1. सांख्य दर्शनः - कपिल

2. न्याय दर्शन:- गौतम

3. योग दर्शन:- पतंजलि

4. वैशेषिक दर्शनः - कणाद

5. उत्तर मीमांसाः- वादरायण

6. पूर्वी मीमांसाः- जैमिनी

ऋग्वैदिक काल महत्वपूर्ण तथ्य

  • आर्यों का मुख्य व्यवसाय पशुपालन था
  • आर्यों का समाज पितृप्रधान था
  • गाय को अधन्या (ना मारे जाने योग्य पशु की श्रेणी में रखा गया था)
  • आर्यों का प्रिया पशु घोड़ा एवं सर्वाधिक प्रिय देवता इंद्र थे
  • आर्यों द्वारा खोजी के धातु लोहा थी
  • ऋग्वेद में सरस्वती नदी सबसे महत्वपूर्ण तथा पवित्र मानी जाती थी
  • ऋग्वेद में गंगा का उल्लेख 1 बार यमुना का उल्लेख 3 बार तथा सिंधु नदी का उल्लेख सर्वाधिक बार हुआ है

उत्तरवैदिक काल के महत्वपूर्ण तथ्य

उत्तरवैदिक काल में इंद्र की बजाए प्रजापति सर्वाधिक प्रिय देवता बन गए

उत्तर वैदिक काल में वर्ण व्यवसाय की बजाय जन्म के आधार पर निर्धारित होने लगे थे

यव (जौ), व्रीहि (धान), माड़ (उड़द), गुदग (मूंग), गोधूम (गेंहू), मसूर आदि खाद्यान्नों का वर्णन यजुर्वेद में मिलता है।

उत्तरवैदिक ग्रन्थों में लोहे के लिए लौह अयस एवं कृष्ण अयस शब्द का प्रयोग हुआ है अतरंजीखेड़ा में पहली बार कृषि से सम्बन्धित लौह उपकरण प्राप्त हुए हैं।

वैदिक सभ्यता के महत्वपूर्ण प्रश्न - 

  • पूर्व-वैदिक या ऋग्वैदिक संस्कृति का काल किसे माना जाता है ?
    - 1500 ई. पू.-1000 ई. पू.
  • उत्तर-वैदिक संस्कृति का काल किसे माना जाता है ?
    - 1000 ई. पू.-600 ई. पू.
  • 'आर्य' शब्द का शाब्दिक अर्थ है
    - श्रेष्ठ या कुलीन
  • किस फसल का ज्ञान वैदिक काल के लोगों को नहीं था ?
    - तम्बाकू
  • उत्तर-वैदिक काल के वेदविरोधी और ब्राह्मणविरोधी धार्मिक अध्यापकों को किस नाम से जाना जाता था ? 
    - श्रमण
  • वैदिक गणित का महत्वपूर्ण अंग है
    - शुल्व सूत्र
  • किस वेद में प्राचीन वैदिक युग की संस्कृति के बारे में सूचना दी गई है?
    - ऋग्वेद
  • वेदों की संख्या कितनी है ?
    - चार
  • भारत के राजचि में प्रयुक्त होने वाले शब्द 'सत्यमेव जयते' किस उपनिषद् से लिए गए हैं ?
    - मुण्डक उपनिषद् से
  • ऋग्वैदिक आर्यों का मुख्य व्यवसाय क्या था ?
    - पशुपालन
  • भारतीय संगीत का आदिग्रन्थ कहा जाता है
    - सामवेद

प्रमुख दर्शन और उनके प्रवर्तक

  • प्रवर्तक = दर्शन
  • कपिल = सांख्य
  • गौतम = न्याय
  • चार्वाक = चार्वाक
  • योग = पतंजलि
  • जैमिनी = पूर्व मीमांसा
  • बादरायण = उत्तरमीमांसा
  • कणाद = वैशेषिक
  • कृष्ण भक्ति का प्रथम और प्रधान ग्रन्थ है
    – श्रीमद्भागवतगीता
  • ऋग्वेद में संपत्ति का प्रमुख रूप क्या है ?
    - गोधन
  • ऋग्वेद के किस मंडल में शूद्र का उल्लेख पहली बार मिलता है ? 
    - 10वें
  • वेदों की ऋचाओं को पढ़ने वाले ऋषि को क्या कहते हैं
    - होतृ
  • ऋग्वेद का सम्बन्ध किससे है ?
    - ईश्वर महिमा से
  • ऋग्वेद में कुल मंडल हैं
    - 10
  • ऋग्वेद में कुल सूक्तियाँ हैं
    -1028
  • ऋग्वेद में कुल ऋचाएँ हैं
    -10580
  • ऋग्वेद में इन्द्र के लिए ऋचाएँ हैं
    -250
  • ऋग्वेद में अग्नि के लिए ऋचाएँ हैं
    -200
  • सबसे पुराना वेद कौन-सा है ?
    - ऋग्वेद
  • ज्ञान-वेदों की संख्या चार है-ऋग्वेद, सामवेद, यजुर्वेद तथा अथर्ववेद। इनमें सबसे प्राचीन वेद ऋग्वेद है।
  • त्रयी नाम है -
    तीन वेदों का
  • ज्ञान-ऋग्वेद, यजुर्वेद तथा सामवेद को 'वेदत्रयी' या 'त्रयी' कहा जाता है।
  • किस वैदिक ग्रन्थ में 'वर्ण' शब्द का सर्वप्रथम नामोल्लेख मिलता है ?
    - ऋग्वेद में
  • भारत का सबसे प्राचीन धर्म ग्रन्थ कौन-सा है ?
    - वेद
  • अथर्व का अर्थ क्या है ?
    - पवित्र जादू
  • पूर्व मीमांसा दर्शन के प्रतिपादक कौन है ?
    - जैमिनी
  • सबसे प्राचीन पुराण कौन-सा है ?
    - मत्स्य पुराण
  • ब्राह्मण ग्रन्थों में सबसे प्राचीन ग्रन्थ कौन-सा है ?
    - शतपथ ब्राह्मण 
  • वर्ण व्यवस्था से सम्बन्धित 'पुरुष सूक्त' मूलतः पाया जाता है
    - ऋग्वेद में
  • 'गोपथ ब्राह्मण' सम्बन्धित है
    - अथर्ववेद से
  • उपनिषदों का मुख्य विषय है
    - दर्शन
  • नचिकेता आख्यान का उल्लेख मिलता है
    - कठोपनिषद् में
  • पुराणों की संख्या कितनी है ?
    -18
  • वैदिक धर्म का मुख्य लक्षण किसकी उपासना से था ?
    - प्रकृति
  • किस देवता के लिए ऋग्वेद में 'पुरंदर' शब्द का प्रयोग हुआ है?
    – इंद्र
  • 'शुल्व सूत्र' किस विषय से सम्बन्धित पुस्तक है ?
    - ज्यामिति
  • 'असतो मा सदगमय' कहाँ से लिया गया है ?
    - ऋग्वेद
  • आर्य भारत में बाहर से आए और सर्वप्रथम बसे थे
    - पंजाब में
  • ऋग्वेद का कौन-सा मंडल पूर्णतः सोम को समर्पित है ?
    - नौवाँ मंडल
  • प्रसिद्ध दस राजाओं का युद्ध 'दाशराज युद्ध' किस नदी के तट पर लड़ा गया ?
    - परुष्णी
  • धर्मशास्त्रों में भूराजस्व की दर क्या है ?
    -1/6
  • 800 ईसा पूर्व से 600 ईसा पूर्व का काल किस युग से जुड़ा है?
    - ब्राह्मण युग
  • आरम्भिक वैदिक साहित्य में सर्वाधिक वर्णित नदी है
    - सिन्धु
  • उपनिषद् काल के राजा अश्वपति कहाँ के शासक थे ? 
    - केकय के
  • अध्यात्म ज्ञान के विषय में नचिकेता और यम का संवाद किस उपनिषद् में प्राप्त होता है ? 
    - कठोपनिषद् में
  • वैदिक नदी कुभा (काबुल) का स्थान कहाँ निर्धारित होना चाहिए ?
    - अफगानिस्तान में 
  • कपिल मुनि द्वारा प्रतिपादित दार्शनिक प्रणाली है
    - सांख्य दर्शन
  • भारत के किस स्थल की खुदाई से लौह धातु के प्रमाण मिले हैं ? प्रचलन के प्राचीनतम 
    - अतरंजीखेड़ा
  • किस काल में अछूत की अवधारणा स्पष्ट रूप से उदित हुयी ?
    - धर्मशास्त्र के काल में
  • गायत्री मंत्र (देवी सावित्री को सम्बोधित) किस पुस्तक में मिलता है ?
    - ऋग्वेद में
  • न्यायदर्शन को प्रचारित किया था
    - गौतम ने
  • प्राचीन भारत में 'निष्क' से जाने जाते थे
    - स्वर्ण आभूषण
  • योग दर्शन के प्रतिपादक हैं
    - पतंजलि
  • उपनिषद् पुस्तकें हैं
    - दर्शन पर
  • पूर्व-वैदिक आर्यों का धर्म प्रमुखतः था
    - प्रकृति-पूजा और यज्ञ
  • 'चरक संहिता' नामक पुस्तक किस विषय से सम्बन्धित है ?
    - चिकित्सा
  • यज्ञ सम्बन्धी विधि-विधानों का पता चलता है
    - यजुर्वेद से
  • वैदिक युगीन 'सभा' क्या थी ?
    - मंत्रिपरिषद्
  • वैदिक युग में प्रचलित लोकप्रिय शासन प्रणाली थी
    - गणतंत्र
  • सबसे प्राचीन वेद कौन-सा है ?
    - ऋग्वेद
  • कौन भारतीय दर्शन की आरम्भिक विचारधारा है ?
    - सांख्य
  • सांख्य, योग, न्याय, वैशेषिक, मीमांसा एवं वेदांत - इन छः भिन्न भारतीय दर्शनों की स्पष्ट रूप से अभिव्यक्ति हुई
    - वैदिक युग में
  • वह दस्तकारी कौन-सी है जो आर्यों द्वारा व्यवहार में नहीं लाई गई थी ?
    - लुहार (लुहारगीरी)
  • प्राचीनतम व्याकरण 'अष्टाध्यायी' के रचनाकार हैं
    - पाणिनि
  • कौन-सी स्मृति प्राचीनतम है ?
    - मनुस्मृति
  • 'आदि काव्य' की संज्ञा किसे दी जाती है ?
    - रामायण
  • प्राचीनतम पुराण है
    - मत्स्य पुराण
  • ऋग्वेद में सबसे पवित्र नदी किसे माना गया है ?
    - सरस्वती
  • वैदिक समाज की आधारभूत इकाई थी
    - काल/कुटुम्ब
  • ऋग्वैदिक युग की प्राचीनतम संस्था कौन-सी थी ?
    - विदथ
  • ब्राह्मण ग्रन्थों में सर्वाधिक प्राचीन कौन है ?
    - शतपथ ब्राह्मण
  • 'गोत्र' व्यवस्था प्रचलन में कब आई ?
    - उत्तर-वैदिक काल
  • 'मनुस्मृति' मुख्यतया सम्बन्धित है
    - समाज व्यवस्था से
  • गायत्री मंत्र की रचना किसने की थी ?
    - विश्वामित्र ने
  • 'अवेस्ता' और 'ऋग्वेद' में समानता है। 'अवेस्ता' किस क्षेत्र से सम्बन्धित है?
    - ईरान से
  • किसका संकलन ऋग्वेद पर आधारित है ?
    - सामवेद का
  • किस वेद में जादुई माया और वशीकरण (magical charms and spells) का वर्णन है ?
    - अथर्ववेद में
  • 'आर्य' शब्द इंगित करता है
    - नृजाति समूह को
  •  प्राचीनतम विवाह संस्कार का वर्णन करने वाला 'विवाह सूक्त' किसमें पाया जाता है ?
    - ऋग्वेद में
  • ऋग्वेद में 'अघन्य' (वध योग्य नहीं) शब्द का प्रयोग किसके लिए किया गया था ?
    - गाय के
  • ऋग्वेद में किन नदियों का उल्लेख अफगानिस्तान के साथ आर्यों के सम्बन्ध का सूचक है ? 
    - कुभा, क्रमु
  • आर्यों के आर्कटिक होम सिद्धान्त का पक्ष किसने लिया था ?
    - बी. जी. तिलक ने
  •  'अथर्व' का अर्थ है
    - पवित्र जादू
  • कौन-सा वेद अंशतः गद्य रूप में भी रचित है ?
    - यजुर्वेद
  • उत्तर-वैदिक काल में किस देवता को सर्वोच्च स्थान प्राप्त था ?
    - प्रजापति
  • - संस्कारों की कुल संख्या कितनी है ?
    -16
  • कर्म का सिद्धान्त सम्बन्धित है
    - मीमांसा से

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow